in

Nirbhaya Case: The four convicts were shifted to Tihar Jail number three, here is the hanging cell – Nirbhaya Case : चारों दोषियों को तिहाड़ जेल नंबर तीन में शिफ्ट किया गया, यहीं है फांसी कोठी

खास बातें

  1. पहले दोषी अक्षय और मुकेश जेल नंबर 2 में थे
  2. पहले पवन को जेल नंबर 2 में रखा गया था
  3. दोषी विनय को जेल नंबर 4 में रखा गया था

नई दिल्ली:

निर्भया के सभी दोषियों को दिल्ली की तिहाड़ जेल नंबर तीन में स्थानांतरित कर दिया गया है. उन्हें गुरुवार की शाम को जेल नंबर तीन में शिफ्ट किया गया. उन्हें जेल में  अलग-अलग सेल में रखा गया है. दोषी अक्षय और मुकेश पहले जेल नंबर 2 में थे और पवन को मंडोली जेल से तिहाड़ की जेल नंबर 2 में शिफ्ट किया गया था. दोषी विनय जेल नंबर 4 में था. अब चारों दोषियों को जेल नंबर 3 में शिफ्ट कर दिया गया है. तिहड़ जेल नंबर तीन में ही फांसी कोठी भी है.

निर्भया गैंगरेप और मर्डर मामले में तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार को खत लिखकर फांसी की नई तारीख मांगी है. जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार से दया याचिका के निपटारे तक फांसी की तारीख टालने को कहा है. निर्भया केस के दोषी मुकेश की डेथ वारंट को चुनौती देने वाली याचिका पर गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई हुई. इस मामले में कोर्ट ने बड़ी टिप्पणी की कि दोषी ने दया याचिका लगाई है और 22 जनवरी में सिर्फ पांच दिन बचे हैं. हो सकता है कि राष्ट्रपति आज या कल में, एक-दो दिन में दया याचिका खारिज कर दें. फिर ये लोग 14 दिनों का समय मांगेंगे. फिर नई तारीख मांगेंगे. ऐसे में फांसी कैसे होगी?

तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार को फांसी टालने के लिए पत्र लिखा है. उसने कहा है कि दया याचिका पर निपटारे तक फांसी टाली जाए. पटियाला हाउस कोर्ट ने जेल प्रशासन से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी है. मामले में शुक्रवार को आगे सुनवाई होगी.

निर्भया मामले में प्रकाश जावड़ेकर ने दिल्ली सरकार पर उंगली उठाई, मनीष सिसोदिया ने दिया करारा जवाब

इससे पहले बुधवार को निर्भया केस के दोषी मुकेश की डेथ वारंट को चुनौती देने वाली याचिका का दिल्ली हाईकोर्ट ने निपटारा कर दिया था. हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान दोषी मुकेश को ट्रायल कोर्ट में जाने को कहा था. दिल्ली सरकार ने बुधवार को हाईकोर्ट को बताया था कि 2012 के निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड के दोषियों में से एक ने दया याचिका दायर की है, इसलिए दोषियों की फांसी 22 जनवरी को नहीं हो सकती. चारों दोषियों विनय शर्मा, मुकेश सिंह, अक्षय कुमार सिंह और पवन गुप्ता को 22 जनवरी को तिहाड़ जेल में सुबह सात बजे फांसी देना है.

Nirbhaya Case: तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार से मांगी फांसी की नई तारीख, कहा- दया याचिका के निपटारे तक…

VIDEO : क्या टलेगी दोषियों की फांसी की तारीख

टिप्पणियां

Source link

Written by Roshiya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

When Sonam Kapoor Channelled Her Inner Anarkali In London

OnePlus Foldable Phone Isn’t Coming Anytime Soon, Because Its CEO Doesn’t Believe the Tech Is Ready Yet